Web Hosting क्या हैं और Web Hosting कितने प्रकार की होती हैं?

9
943

आज के समय में सभी लोग और कम्पनियाँ Online हो रही हैं| इनमे Web Hosting सबसे Important Factor हैं| इस Post आज हम वेब होस्टिंग के बारे में ही बात करेंगे| जैसे की Web Hosting क्या हैं और Web Hosting कितने प्रकार की होती हैं? What is web hosting in Hindi and types of Hosting?

अब Website ओंर Blog बनाना बहुत आसान हो गया हैं| जिसे Programming Language और Web Design आती हैं, आज के समय में वो भी खुद का Website बना सकता हैं|

Website और Blog बनाना बहुत आसान हैं लेकिन Website को चलाना और Update करना उतना ही मुश्किल काम हैं|

लोग अपना Blog तो बना लेते हैं लेकिन बीच में ही कुछ समय के बाद बंद कर देते हैं|

क्योकि उन्हें किस प्रकार का Domain, कौन सी Hosting खरीदना हैं, SEO करने और Website पर traffic कैसे लाना हैं इसके बारे में ज्यादा Knowledge नही होती हैं

कोई भी वेबसाइट को online internet पर लाने की लिए दो मुख्य चीजो की जरुरत पड़ती हैं एक Domain और दूसरा Hosting.

Hosting kya hai Hindi me
What is Web Hosting in Hindi

Domain name के बारे में, हम आपको पिछले Post में बता चुका हूँ| अगर आप अभी तक Domain के बारे में नही जानते की Domain name क्या हैं, तो आप इसे पढ़ सकते हैं|

दूसरा हैं Hosting, इसे तो कोई भी खरीद सकता हैं| ये आसानी से आपको कुछ रूपये में (प्रति महीना या वर्ष) में मिल जाती हैं| Google Blogger free में Hosting और Sub-domain provide कराती हैं|

लेकिन Hosting भी कई प्रकार के आती हैं| इसके बारे में जानकारी होना बहुत जरुरी हैं| आपको अपने Website या Blog के Requirement के अनुसार Web Hosting का चुनाव करना चाहिए|

What is Web Hosting in Hindi

अब आगे हम ये जानने की कोशिश करेंगे की आखिर Hosting होती क्या हैं| और Hosting कितने प्रकार की होती हैं| हमे कौन से Hosting choose करना चाहिए|

वेब होस्टिंग क्या हैं (Web Hosting Kya Hai)

Web Hosting एक प्रकार की सेवा (Service) हैं, जो किसी व्यक्ति या संस्था को Internet पर Website या Web Page को रखने के लिए जगह (Storage) उपलब्ध (Provide) कराती हैं|

Website Hosting Service आपको, आपके Website को पूरे World में Internet पर Access करने सुबिधा देता हैं|

Web Hosting Service Provider आपके Website को Internet पर देखे जाने के लिए आवश्यक Technology, Service और Storage प्रदान करती हैं|

ये Hosting Provider हमारे Website को Internet पर लाने के लिए हमे एक Special Computer में Space (Storage) देती हैं| सारे website जिसे हम Internet से खोल और देख सकते हैं वो सभी इन्ही Special पर Store होती हैं|

उदहारण के लिए जैसे हमे किसी होटल के Room में रहने के लिए उनको किराया देना पड़ता हैं उसी तरह Website और उसके Files को दूसरे के Computer (Host Computer) में रखने के लिए उनको भी किराया देना पड़ता हैं|

ये Special type के computer बहुत powerful होते हैं| ये 24 घंटे सातो दिन (24*7) बहुत ही High Speed Internet से Connect होते हैं| जिससे की हमारी वेबसाइट हमेशा Online रहे|

इन Special Computer को Host Computer और Server Computer कहते हैं|

इन्ही Server पर हमारे website के सभी File जैसे की Text, Audio, Video, Image आदि Store रहती हैं|

Internet पर हमारे Website को लाने के लिए जो हमे Service Provide कराता हैं उन्हें Web Host कहते हैं|

और Web Host द्वारा जो हमे Service Provide की जाती हैं, उस Service को Web Hosting कहते हैं|

Web Hosting कैसे काम करता हैं? (Web Hosting Kaise Kaam Karta Hai)

किसी घर या Office में दो या दो से अधिक Computer या अन्य Device Connect होते और एक दूसरे से आपस में डाटा Share करते हैं, तो यह एक छोटा सा Internet या Network बन जाता हैं|

लेकिन इस प्रकार के Network को Private Network कहते हैं| इस Network को सब नही Access कर सकते हैं| सिर्फ Network से Connected Device ही आपस में Informationऔर File exchange और transfer कर सकती हैं|

लेकिन Public Network को कोई भी कही से भी Internet के द्वारा Access कर सकता हैं| आप सभी को पता ही होगा की Internet एक Public Network और Duniya का सबसे बड़ा Network हैं|

Internet एक पब्लिक नेटवर्क होने के कारण, इससे कोई भी और कही से जुड़ जाते हैं और Data को शेयर भी करते हैं|

हम किसी भी Website और Service को Internet से Access तभी कर पाते हैं, जब वो Website और Service किसी न किसी Host Computer या Web Server पर Store होती हैं|

यह होस्ट कंप्यूटर या सर्वर साल के 365 दिन 24 घंटे High Speed Internet से Connect रहता हैं|

यही Web Server आपको किराये पर Website आदि रखने के लिए अपने Host Computer में आपकी जरुरत के हिसाब से स्पेस (Storage) देती हैं|

आपके Website, File आदि को Secure और Online रखने के लिए ये आपसे monthly और yearly पैसा लेती हैं|

एक example के द्वारा हम आपको बताते हैं की आखिर Web Hosting काम कैसे करता हैं:

जब कोई Internet User अपने Browser जैसे Chrome, Firefox, UC आदि के Address किसी Website का URL या नाम डालता हैं तो उस Website के Server से connect हो जाता हैं|

और Server मैं मौजूद जानकारी या Page आपके Browser में खुल जाता हैं| आपके Browser और Server के बीच भी कई Factor काम करते हैं जैसे की DNS और उस website का IP address.

मान लेते हैं की आप अपने Browser से हमारी website www.digitalnewindia.com (DNI) को Open कर रहे हैं|

जैसे ही आप हमारी website ब्राउज़र में डालेगे तो सबसे पहले आपका ब्राउज़र DNI के DNS (Domain Name System or Server) को Website Open करने की Request करता हैं|

DNS हमारे वेबसाइट के Domain name को सबसे पहले उसके IP address में change करेगा| क्योंकि Internet IP Address को समझता हैं|

हर Website का एक निश्चित IP Address होता हैं| वो तो DNS IP Address को हमारे सुबिधा के लिए एक नाम दे देता हैं|

अब हमारा DNS ये check करेगा की ये IP address किस Hosting Server से Connect हैं|

Confirm होने के बाद वो आपके Browser द्वारा दिए गये Request को उस Hosting Server को भेज देगा जहा हमारा website और उसके सारे data store हैं

इसके बाद हमारा website का Host Computer आपके Browser द्वारा दिए गए Website open की Request को check करता हैं|

उसके बाद अगर वो Data मौजूद हैं तो वो आपके browser को send कर देता हैं और आपके Browser मे DNI की Website open हो जाती हैं|

क्या हम अपने Website को अपने Computer पर Host कर सकते हैं?

इसका जवाब हैं हाँ| आप अपने खुद के Website को अपने ही Computer पर होस्ट कर सकते हैं| क्योंकि Computer ही तो Host Computer या Server हैं|

इसके लिए आपको अपने Computer को Host Computer या Server में बदलना पड़ेगा| Host Computer में covert करने के लिए आपको अपने Computer में Server program को Install और Configuration करना पड़ेगा|

आपको अपने computer के Cooling और Power का sufficient व्यवस्था करनी होगी और आखरी बात ये की computer को 24 घंटे High Speed Internet Connection भी चाहिए|

जिससे की आपकी Website कभी भी Down न होने पाए और हमेशा Online रहे|

वेब होस्टिंग के प्रकार (Types of Web Server)

Operating System और Server के आधार पर Web Hosting (also knows as Web Server) कई प्रकार के होते हैं| नीचे हम कुछ Important Web Server दिए गए हैं:

  1. Linux Hosting (Linux Web Server)
  2. Windows Hosting (Windows Web Server)
  3. Apache Hosting (Apache Web Server)
  4. IIS Hosting (IIS Web Server)
  5. Ngnix Hosting (Ngnix Server)
  6. LightSpeed Web Server

Website Support के आधार पर Web Hosting के प्रकार

वेबसाइट सपोर्ट और जरुरत के हिसाब से वेब होस्टिंग भी वेब होस्टिंग कई प्रकार के होते हैं| उसमे में हम कुछ Important होस्टिंग के बारे में आपको बता रहे हैं:

  1. Free Web Hosting
  2. Shared Web Hosting
  3. Reseller Web Hosting
  4. VPS Web Hosting
  5. Dedicated Web Hosting
  6. Cloud Web Hosting
  7. Colocating Web Hosting
  8. Managed WordPress Hosting
  9. Self Service Web Hosting

इन सारे प्रकार के Web Hosting के बारे में हम आपको अगली Post में पूरे Details के साथ बताएँगे| और ये भी बात करेंगे की कौन सी Hosting आपको अपने जरुरत के हिसाब से खरीदनी चाहिए|


DigitalNewIndia – Let’s go digital

Host in Network

Host को Network Host भी कहते हैं| Host एक Computer और Server हैं, जो दूसरे अन्य Host से Network के माध्यम से जुड़ा होता हैं|

Host को Web Host के नाम से भी जाना जाता हैं| एक होस्ट, वेब सर्वर का एक प्रकार है जो Website, Webआधारित Application और Services को Store और Manage करता हैं|

एक Network से Connected सभी Host और Host User, Information को भेजने (Send) और प्राप्त (Receive) करने के लिए एक दूसरे से Communication करते हैं|

Web Hosting

एक Web Host आपके Website और अन्य Services को Internet पर Online करने के लिए जो Service आपको Provide कराते हैं, उसे Web Hosting कहते हैं|

Host Computer

Network Host ही एक Host Computer या अन्य Device है जो Computer Network से जुड़ा है।

Web Hosting Service Provider, किसी Website को Internet पर Online करने के लिए, उस Website को एक Host Computer पर Host (Space या Storage देती हैं) करती हैं|

Server

Server एक Computer, Computer Program या एक Device है जो दूसरे Program या Device को काम करने के लिए जरुरी सुबिधा (Platform) प्रदान करता है, जिसे हम “Client” कहते है।

एक Computer या device जो किसी Network से Connect हो और अपनी Files को दूसरे Network के साथ Share करती हो तो उसे भी Server कहते हैं|

9 COMMENTS

  1. बहुत ही खुबसूरत लिखा है अपने और अछे से समझाया है आपका ब्लॉग भी काफी खूबसूरत है |

    • Thank you Mohammad Mustufa,
      हमारे Blog को अपने दोस्तों के साथ भी Share करे जिससे उनको भी Help मिल सके|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here